अमरुद में गूटी – एयर लेयरिंग

अमरुद के नये पौधे तैयार करना – अमरुद में गूटी – एयर लेयरिंग

Prepare new seedling of Guava, Air layering in Guava.

  • यह अमरुद में कायिक प्रवर्धन की विधि है इसमें अच्छी किस्म के अमरुद के पौधे से  नया अमरुद का बगीचा रोपने के लिए नये पौधे तैयार किये जाते है. इस तरह से तैयार किये गए पौधे तेजी से बड़ते है व् इनमे जल्दी फल आते है. इस तरह से जो पौधे तैयार होते है उसके गुड़ व लक्षण उसी पौधे के सामान होते है जिस पेड़ से इसको तैयार किया जाता है. इसलिए जिस पेड़ से गूटी द्यारा नये पौधे तैयार किये जाते है वह अधिक उत्पादन वाला होना चाहिए. पेड़ के चुनाव के लिए पहले उस पौधे को देख ले की वह अच्छी गुडवत्ता के फल देने वाला होना चाहिए.
  • हम सभी जानते है की जो पौधे बीज से तैयार करते है उनकी बडवार धीमी होती है व उनमे देर से फल लगते व उनका उत्पादन कम रहता है.
  • गूटी विधि से अमरुद के पौधे तैयार करने की विधि-

इसके लिए एक अच्छी उपज देने वाले अमरुद के पौधे की एक टहनी का चुनाव करते जिसकी बडवार अच्छी हो, रोग व कीड़ो आदि से ग्रसित न हो. इस टहनी में पेड़ लगाने के स्थान से थोड़ी दूर पर एक इंच से 1.5 इंच लम्बाई का एक भाग चुनते है इसके दोनों किनारों पर चाकू से गोल  कट दोनों किनारों पर लगाते है. उन दोनों कटो के बीच के स्थान की छाल को उतार देते है, इस छाल उतारे हुए स्थान पर जड़ निकालने वाला (रूटिंग मटेरियल) मटेरियल लगाते है जो गीला रहता है. अब इस कट को रूटिंग मटेरियल के साथ पॉलिथीन लगाकर धागे से अच्छी तरह बांध देते है. 21 दिन के बाद इस स्थान पर जड़े निकल आती है, अब पॉलिथीन के नीचे का हिस्सा जो मुख्य पेड़ से जुड़ा रहता है वहा से टहनी को काटते है. और जड़ वाले हिस्से को जमीन या गमले या पॉलिथीन में लगा देते है, व् पानी डालते है,  व बाद में इसे खेत में रोप दिया जाता. इस तरह से आप एक पौधे से कितने भी नये पौधे तैयार कर सकते है.

  • यह गूटी विधि 15 जुलाई से 15 सितम्बर के बीच की जाती है इसमें रिजल्ट अच्छे आते है व पौधे जल्दी तैयार हो जाते है.
  • यह जो नया पेड़ तैयार होता है उसके गुड व् बडवार उसी पौधे के समान होती है जिससे इसे तैयार किया जाता है.
  • गूटी में जड़ निकालने वाला पदार्थ (रूटिंग मटेरियल) स्फेग्नम मोस होती है जिसे पानी में भिगोकर रूटिंग मटेरियल तैयार करते है जो आपको आसानी से बड़े सिटी या ऑनलाइन बेचने वाली वेवसाईट पर मिल जाएँगी.
  • कम संख्या में पौधे तैयार करने के लिए घर पर ही रूटिंग मटेरियल बना सकते है.
  • इसके लिए 4 भाग सडी हुई गोबर/वर्मी कम्पोस्ट 
  • 4 भाग लकड़ी का बुरादा 
  • 1 भाग मिट्टी 
  • व् 1 भाग बालू रेत. इन सब को मिलकर पानी के साथ मिलकर रूटिंग मटेरियल तैयार कर सकते है.

ज्यादा जानकारी के लिए हमारे  चैनल— डिजिटल खेती — Digital kheti……..को यूट्यूब या गूगल पर सर्च करे.

धन्यवाद 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *