किसानों के लिए प्रमाणित बीजों का भाव/विक्रय दर, बीजों पर अनुदान

 सरकार/कृषि विभाग से निर्धारित अनुदान की दर व बीजों की विक्रय दर
किसानों के लिए प्रमाणित बीजों का भाव, बीजों की विक्रय दर, प्रमाणित बीजों पर अनुदान
किसानों के लिए प्रमाणित बीजों के फाइनल रेट-
क्र.स. फसल का नाम संस्था की बीज विक्रय दर अनुदान /छूट कृषको के लिए बीज की विक्रय दर
गेंहू फसल का बीज
1 गेंहू ऊँची जाति/किस्म ( 10 वर्ष तक की अवधि ) 3750 750 3000
2 गेंहू ऊँची जाति/किस्म ( 10 वर्ष से अधिक अवधि ) 3700 100 3600
3 गेंहू बोनी जाति/किस्म ( 10 वर्ष तक की अवधि ) 3550 750 2800
4 गेंहू बोनी जाति/किस्म  ( 10 वर्ष से अधिक अवधि ) 3300 100 3200
चना फसल का बीज
1 चना  ( 10 वर्ष तक  ) 6300 1300 5000
2 चना  ( 10 वर्ष से अधिक ) 6300 500 5800
3 चना काबुली  ( 10 वर्ष तक  ) 6700 1300 5400
4 चना काबुली ( 10 वर्ष से अधिक ) 6500 500 6000
मटर फसल का बीज
1 मटर  ( 10 वर्ष तक  ) 4000 2000 2000
2 मटर  ( 10 वर्ष से अधिक ) 3800 300 3500
3 मटर अर्किल समस्त किस्मे 4400 00 4400
मसूर फसल का बीज
1 मसूर  ( 10 वर्ष तक  ) 6400 3200 3200
2 मसूर ( 10 वर्ष से अधिक ) 5900 2500 3400
सरसों फसल का बीज
1 सरसों  ( 15 वर्ष तक  ) 6000 3000 3000
2 सरसों ( 15 वर्ष से अधिक ) 6000 00 6000
अलसी फसल का बीज
1 अलसी  ( 15 वर्ष तक  ) 5800 2900 2900
2 अलसी  ( 15 वर्ष से अधिक ) 5500 00 5500
जौ फसल का बीज
1 जौ  ( 10 वर्ष तक  ) 2900 800 2100
2 जौ ( 10 वर्ष से अधिक ) 2900 400 2500
मूंग फसल का बीज
1 मूंग  ( 10 वर्ष तक  ) 6600 3300 3300
2 मूंग ( 10 वर्ष से अधिक ) 6500 2500 4000
  • संस्था द्वारा बीज विक्रय दर पर किसानों को बेचा जायेगा.
  • एवं अनुदान की राशि सीधे किसानों के खाते में आयेगी. उदाहरण के लिए  मूंग की संस्था की बीज विक्रय दर है 6600  रुपये/क्विंटल तो किसान को  6600  रुपये/क्विंटल के भाव से पूरा पैसा देना है अनुदान  की राशि 3300 रुपये/क्विंटल की दर से किसानों के खाते में वापिस आयेगा.
  • इसके लिए किसान अपना आधार नंबर, बैंक खाता नंबर , बैंक का आई.ऍफ़.सी.कोड., खाता खसरा आदि जहा से बीज खरीद रहे है उस संस्था सोसाइटी या प्रमाणित बीज विक्रय केंद पर जमा कराये.
  • ज्यादा जानकारी के लिए कृषि विभाग या अपनी सोसाइटी में संपर्क करे.
  • तथा किसान अपने नजदीकि की सोसाइटी या सरकारी बीज प्रमाणित विक्रेता से ही बीज खरीदे.
  • ये मध्यप्रदेश राज्य के लिए है, अन्य राज्यों के किसान अपने जिले में कृषि विभाग में संपर्क करे.
  • यह योजना सभी राज्यों में है अत किसान अपने राज्य में कृषि विभाग या अपनी नजदीकि की सहकारी समिति/सोसाइटी में संपर्क करे.
  • खेती बाड़ी, पशुपालन, विभाग की योजनओं आदि के बारे में यूट्यूब पर खोजे डिजिटल खेती  Digital Kheti या नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करे.
  • कृपया डिजिटल खेती Digital Kheti चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे.
  • https://www.youtube.com/channel/UC8y4ihEQyARwqQMGbzR4ISA.

प्रमाणित बीजों की उपार्जन अथवा खरीदी दर, बीज उत्पादन पर अनुदान

राज्य शासन कृषि मंत्रालय/कृषि विभाग द्वारा निर्धारित प्रमाणित बीजों की उपार्जन दर.

प्रमाणित बीजों की उपार्जन अथवा खरीदी दर, बीज उत्पादन पर अनुदान.

रबी 2018-19 में किसानों के लिए प्रमाणित बीजों की उपार्जन अथवा खरीदी  दर.

  • जो किसान प्रमाणित बीज उत्पादन करते है, संस्था के माध्यम से उनकों बीज उत्पादन करने पर खरीदी या उपार्जन की दर निर्धारित की गई है, इसमें किसानो को संस्था से बीज खरीद के उनकें बीज उत्पादन कार्यक्रम के लिए बीज उत्पादन करना पड़ता है, जब फसल तैयार हो जाती है तो कटाई व थ्रेशिंग के बाद इस दर से संस्था किसानों से वापिस बीज की खरीदी करती है. किसान के खेत पर बीज प्रमाणीकरण अधिकारी निरीक्षण  के लिए आता है व किसानों को संस्था के अनुसार अन्य काम भी उनकी देखरेख में करने पड़ते है ताकि प्रमाणित बीज उत्पादन की क्रिया को पूरा किया जा सके.

प्रमाणित बीजों की उपार्जन दर,

क्र.स. फसल का नाम कृषकों के लिए

उपार्जन दरे

1 गेंहू ऊँची जाति/किस्म (10 वर्ष तक की अवधि) 2200
2 गेंहू ऊँची जाति/किस्म (10 वर्ष से अधिक अवधि) 2200
3 गेंहू बोनी जाति/किस्म (10 वर्ष तक की अवधि) 2000
4 गेंहू बोनी जाति/किस्म(10 वर्ष से अधिक अवधि) 2000
5 चना (10 वर्ष तक) 4600
6 चना (10 वर्ष से अधिक) 4600
7 चना काबुली (10 वर्ष तक ) 5100
8 चना काबुली (10 वर्ष से अधिक) 5100
9 मटर (10 वर्ष तक ) 2300
10 मटर (10 वर्ष से अधिक) 2300
11 मटर अर्किल समस्त किस्मे 2800
12 मसूर (10 वर्ष तक) 4500
13 मसूर (10 वर्ष से अधिक) 4500
14 सरसों (15 वर्ष तक ) 4150
15 सरसों (15 वर्ष से अधिक) 4150
16 अलसी (15 वर्ष तक ) 4100
17 अलसी (15 वर्ष से अधि ) 4100
18 जौ (10 वर्ष तक ) 1500
19 जौ (10 वर्ष से अधिक) 1500
20 मूंग (10 वर्ष तक ) 5700
21 मूंग  (10 वर्ष से अधिक) 5700

इस तालिका में दर्शाई गई दरों के अनुसार बीज उपार्जित किये गए प्रमाणित बीजों का भुगतान संस्था द्वारा किया जायेगा. इसमें संस्था द्वारा दिए जाने वाले बोनस की राशि भी सम्मिलित है.

प्रमाणित बीज उत्पादन पर किसानों को अनुदान-
क्र.स. फसल का नाम बीज उत्पादन अनुदान (रुपये/क्विंटल अनुदान योजना
1 चना (10 वर्ष तक की अवधि ) 1000 राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- दलहन)
2 मसूर (10 वर्ष तक की अवधि) 3200 राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- दलहन)
3 सरसों (10 वर्ष तक की अवधि ) 1000 राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन
4  अलसी (10 वर्ष तक की अवधि ) 2500 राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन
आधार बीज उत्पादन पर किसानों को अनुदान-
क्र.स. फसल का नाम बीज उत्पादन अनुदान (रुपये/क्विंटल योजना का नाम जिससे अनुदान दिया जाता है.
1 सरसों  (10 वर्ष तक की अवधि ) 500 राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन
2 अलसी  (10 वर्ष तक की अवधि ) 2500 राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन
  • प्रमाणित/आधार बीज उत्पादन अनुदान में से 75 % राशि बीज उत्पादक कृषक को व शेष 25 % राशि प्रदेश की बीज उत्पादक संस्थाओ मध्यप्रदेश राज्य सहकारी बीज उत्पादक एव वितरण संघ,सोपा, फार्मर प्रोडूसर कंपनी राज्य बीज एवं फार्म विकास, शासकीय कृषि प्रक्षेत्र आदि को दिया जायेगा.
  • प्रमाणित व आधार बीज के उत्पादन पर अनुदान के लिए किसान अपना आधार नंबर बैंक खाता, बैंक का आई.ऍफ़.सी.कोड., खाता खसरा आदि  उस संस्था, सोसाइटी या प्रमाणित बीज उत्पादन केंद पर जमा कराये जिस संस्था के अन्दर वो लोग बीज उत्पादन कर रहे है.
  • ज्यादा जानकारी के लिए कृषि विभाग या बीज उत्पादन कराने वाले संस्थान में संपर्क करे.
  • ये मध्यप्रदेश राज्य के लिए है, अन्य राज्यों के किसान अपने जिले में कृषि विभाग में संपर्क करे. सभी राज्यों में हर मौसम रबी व खरीफ में बीज उत्पादन कार्यक्रम चलता है. अत किसान भाई इसमें भाग ले सकते है व बीज उत्पादन कर सकते है, व प्रमाणित व आधार बीज उत्पादन करके बेंच सकते है. बीज उत्पादन करने से किसानों को खेती में ज्यादा लाभ होगा. बीज उत्पादन की जानकारी के लिए इसी वेवसाइट पर इससे सम्बंधित लेख पढ़े या हमारे यूट्यूब चैनल डिजिटल खेती Digital Kheti पर भी विडियो देख सकते है.
  • कृपया डिजिटल खेती Digital Kheti चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे.
  • https://www.youtube.com/channel/UC8y4ihEQyARwqQMGbzR4ISA.

बीजों पर अनुदान , Subsidy on Seeds Rabi 2018.

बीजों पर सरकार/कृषि विभाग से निर्धारित अनुदान की दर

बीज वितरण अनुदान रुपये/क्विंटल

  • 1. फसल का नाम – गेंहू
  • A. ऊँची जाति/किस्म (10 वर्ष तक की अवधि)
  •      बीज खरीदने पर अनुदान  – 750 रुपये/क्विंटल
  • B. ऊँची जाति/किस्म (10 वर्ष से अधिक अवधि)
  •      बीज खरीदने पर अनुदान  – 100 रुपये/क्विंटल
  • C. बोनी जाति/किस्म (10 वर्ष तक की अवधि)
  •      अनुदान  – 750 रुपये/क्विंटल.
  • D. बोनी जाति/किस्म (10 वर्ष से अधिक अवधि)
  •      अनुदान  – 100 रुपये/क्विंटल.
  • गेहू में अनुदान की राशि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.) व राष्ट्रिय कृषि विकास योजना (आर.के.वी.वाई.) से किसानों को दी जाती है.
  • 2. फसल का नाम – चना
  • A. जाति/किस्म//वैरायटी – (10 वर्ष तक की अवधि)
  •      बीज खरीदने पर अनुदान  – 1300 रुपये/क्विंटल
  • B. जाति/किस्म//वैरायटी (10 वर्ष से अधिक अवधि)
  •     बीज खरीदने पर अनुदान    – 500 रुपये/क्विंटल
  • 3 फसल का नाम – चना काबुली
  • A. जाति/किस्म//वैरायटी – (10 वर्ष तक की अवधि)
  •      बीज खरीदने पर अनुदान  – 1300 रुपये/क्विंटल
  • B. जाति/किस्म//वैरायटी – (10 वर्ष से अधिक अवधि)
  •      बीज खरीदने पर अनुदान  – 500 रुपये/क्विंटल
  • चना/काबुली चना में अनुदान/छूट की राशि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- दलहन ) से किसानों को दी जाएगी.
  • 4 फसल का नाम –  A. मटर (10 वर्ष तक)
  •    बीज खरीदने पर अनुदान  – 2000 रुपये/क्विंटल
  • B. फसल का नाम – मटर ( 10 वर्ष से अधिक )
  •      बीज खरीदने पर अनुदान – 300 रुपये/क्विंटल
  • C. फसल का नाम – मटर अर्किल समस्त किस्मे
  • अनुदान – 00/00 रुपये/क्विंटल
  • कोई अनुदान नहीं है
  • मटर में अनुदान की राशि राष्ट्रिय कृषि विकास योजना (आर.के.वी.वाई.) से किसानों को दी जाएगी.
  • 5. फसल का नाम – A. मसूर (10 वर्ष तक )
  •     अनुदान  – 3200 रुपये/क्विंटल
  • B. फसल का नाम – मसूर (10 वर्ष से अधिक)
  •      अनुदान – 2500 रुपये/क्विंटल
  • मसूर में अनुदान/छूट की राशि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- दलहन ) से किसानों को दी जाएगी.
  • 6. फसल का नाम – A. सरसों (15 वर्ष तक)
  •    अनुदान – 3000 रुपये/क्विंटल
  • B. फसल का नाम – सरसों (15 वर्ष से अधिक)
  •      अनुदान – 00/00 रुपये/क्विंटल, यानि अनुदान नहीं है
  • सरसों में अनुदान/छूट की राशि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- ओ.एस.ओ.पी.) से किसानों को दी जाएगी.
  • 7. फसल का नाम – A. अलसी (15 वर्ष तक)
  •     अनुदान – 2900 रुपये/क्विंटल
  • B. फसल का नाम – अलसी (15 वर्ष से अधिक)
  •     अनुदान – 00/00 रुपये/क्विंटल, यानि अनुदान नहीं है
  • अलसी में अनुदान/छूट की राशि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- ओ.एस.ओ.पी.) से किसानों को दी जाएगी.
  • 8. फसल का नाम –A. जौ (10 वर्ष तक )
  •      अनुदान – 800 रुपये/क्विंटल
  • B. फसल का नाम – जौ (10 वर्ष से अधिक)
  •     अनुदान – 400 रुपये/क्विंटल,
  • जौ में अनुदान/छूट की राशि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- सी.सी.) से किसानों को दी जाएगी.
  • 9. फसल का नाम – A. मूंग (10 वर्ष तक)
  •     अनुदान – 3300 रुपये/क्विंटल
  • B. फसल का नाम – मूंग (10 वर्ष से अधिक)
  •     अनुदान – 2500 रुपये/क्विंटल,
  • मूंग में अनुदान/छूट की राशि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन.एफ.एस.एम.- दलहन) से किसानों को दी जाएगी.
  • संस्था द्वारा बीज विक्रय दर पर बीज किसानों को बेचा जायेगा.
  • एवं अनुदान की राशि सीधे किसानों के खाते में आयेगी. उदाहरण के लिए गेहू की संस्था की बीज विक्रय दर है 3750 रुपये/क्विंटल तो किसान को 3750 रुपये/क्विंटल के भाव से पूरा पैसा देना है अनुदान 750 रुपये/क्विंटल की दर से किसानों के खाते में आयेगा.
  • इसके लिए किसान अपना आधार नंबर, बैंक खाता, बैंक का आई.ऍफ़.सी.कोड., खाता खसरा आदि जहा से बीज खरीद रहे है उस संस्था सोसाइटी या प्रमाणित बीज विक्रय केंद पर जमा कराये. ताकि अनुदान किसान के खाते में आ सके.
  • ज्यादा जानकारी के लिए अपने जिले के कृषि विभाग या अपने नजदीकि की सोसाइटी में संपर्क करे.
  • तथा किसान अपने नजदीकि की सोसाइटी या सरकारी बीज प्रमाणित संस्था से ही बीज खरीदे.
  • ये अनुदान/छूट मध्यप्रदेश राज्य के लिए है.
  • यह योजना सभी राज्यों में है अत अन्य राज्यों के किसान अपने जिले में कृषि विभाग में संपर्क करे.
  • 10 वर्ष तक की अवधि की किस्म या वैरायटी का मतलब है की यह वैरायटी वैज्ञानिकों द्वारा विकसित करने में अभी से 10 साल से कम समय हुआ हुआ है, अभी 2018 चल रहा है तो ऐसी किस्म वर्ष 2008 में या 2008 के बाद विकसित हुई है. यानि इस किस्म को विकसित हुए 10 साल से कम का समय हुआ है.
  • 10 वर्ष से अधिक अवधि की किस्म या वैरायटी का मतलब है की यह वैरायटी वैज्ञानिकों द्वारा विकसित करने में अभी से 10 साल से अधिक समय हुआ हुआ है, अभी 2018 चल रहा है तो ऐसी किस्म वर्ष 2008 में या 2008 के पहले विकसित हुई है. यानि इस किस्म को विकसित हुए 10 साल से अधिक का समय हो गया है.
  • ऐसा ही 15 वर्ष तक की अवधि  या 15 वर्ष से अधिक अवधि की किस्मों के वारे में समझा जाये.
  • धन्यवाद, 

  • www.kisanhomecart.com

  • ज्यादा जानकारी के लिए यूट्यूब पर खोजे

  • डिजिटल खेती

  • Digital Kheti

नए समर्थन मूल्य की घोषणा 2018

  •  एम.एस.पी (MSP)- रबी 2018 

  • न्यूनतम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी)
  • Minimum Support Price (MSP)
  • यह फसलों का वह न्यूनतम मूल्य होता है जिसका मतलब है कि कम से कम यह भाव या दर तो किसान को फसल उत्पादन करने पर मिलना ही चाहिए. ताकि किसानों को फसल उत्पादन या खेती करने में नुकसान न हो .
  • यदि मंडी में इस मूल्य से कम मूल्य मिलता है तो फसल को सरकार खरीदती है ताकि किसान को होने वाले नुकसान से बचाया जा सके.
  • अधिकतम समय बाजार/मंडी में फसल का भाव न्यूनतम समर्थन मूल्य के बराबर या ज्यादा ही रहता है. इसलिए सरकार फसलों का न्यूनतम मूल्य घोषित करती है.
  • समय अनुसार सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढोतरी करती रहती है ताकि फसल के भाव महगाई अनुसार रहे व किसान को उनकी फसल का उचित मूल्य मिलता रहे.
  • 1. गेहू ( Wheat )

  • 1840 रुपये / क्विंटल .
  • पुराना एम.एस.पी. – 1735 रुपये/क्विंटल.
  • बढोतरी – 105 रुपये/क्विंटल.
  • 2. चना (Gram, Chick Pea )- 4620 रुपये/क्विटल.
  • पुराना एम.एस.पी.– 4400 रुपये/क्विंटल.
  • बढोतरी – 220 रुपये/क्विंटल.
  • 3 . मसूर  (Lentil )-  4475 रुपये/क्विटल.
  • पुराना एम.एस.पी.– 4250 रुपये/क्विंटल.
  • बढोतरी – 225 रुपये/क्विंटल.
  • 4. सरसों ( Mustard )-  4200 रुपये/क्विटल.
  • पुराना एम.एस.पी.– 4000 रुपये/क्विंटल.
  • बढोतरी – 200 रुपये/क्विंटल.
  • 5. जौ ( Barley ) – 1440 रुपये/क्विटल.
  • पुराना एम.एस.पी. – 1410 रुपये/क्विंटल.
  • बढोतरी – 30 रुपये/क्विंटल.
  • मध्यप्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसलों को खरीदने के लिए भावान्तर भुगतान योजना चल रही है. अत सभी किसान भाई पहले अपनी रवी फसलों का पंजीयन कराये उसके बाद फसल को मंडी में बेचे. यह पंजीयन हर साल किया जाता है.
  • ताकि न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ लिया जा सके.
  • विस्तृत जानकारी के लिए किसान भाई भावान्तर भुगतान योजना पर मेरे लेख को पढ़े.
  • अन्य राज्यों के किसान भाई कृषि विभाग में संपर्क करे.

2018 उर्वरक खरीदी की नई दर

उर्वरक खरीदी की नई दर

    कृषको के लिए विक्रय दर  
क्र.स. नाम उर्वरक प्रति बोरी ( 50 किलोंग्राम )  
1 डी.ए.पी. – 1 1400  
2 डी.ए.पी. – 2 1340  
3 एन.पी.के.- 12:32:16 1290  
4 एन.पी.के.- 20:20:13 997  
5 एन.पी.के.- 10:26:26 1230  
6 एन.पी.के.- 14:35:14 1330  
7 अमोनियम सल्फेट 577.50  
8 पोटाश 945  
     

 

यह दरे 01.10.2018 से लागू है.

यह विक्रय दरे मध्यप्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ भोपाल द्वारा घोषित की गई है.

अत यह सभी कोआपरेटिव समितिया इसी दर पर विक्रय करेंगी.

अन्य राज्यों में भी विक्रय दरे इसी प्रकार होंगी, कर के कारण दर थोड़ी कम या ज्यादा हो सकती है ज्यादा अंतर नहीं आयेगा.

अभी सभी किसान भाइयो को मालूम है की हर राज्य में खाद/उर्वरक का विक्रय पी.ओ.एस. मशीन से होता है, जिसमे किसान को आधार कार्ड लाना जरूरी है.

इसमें मशीन में आधार नंबर डालने के बाद अंगूठा लगाना पड़ता है. इसके बाद उर्वरक खरीदी की रशीद निकलती है.