एम.एस.पी (MSP) – रबी 2019

न्यूनतम समर्थन मूल्य  (Minimum Support Price)

एम.एस.पी (MSP) रबी 2019 

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है चन्द्र शेखर जोशी और आप सभी किसान भाईयों का स्वागत है हमारी  इस वेवसाईट www.kisanhomecart.com में.

न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price)  

एम.एस.पी (MSP) रबी 2019 

यह फसलों का न्यूनतम मूल्य होता है जो की किसान को फसल उत्पादन करने पर मिलना ही चाहिए.

एम.एस.पी (MSP)  यदि मंडी में फसल का मूल्य न्यूनतम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) से कम मिलता है तो फसल को वहा की प्रदेश सरकारे खरीदती है, और उनको खरीदी के लिए केंद्र सरकार (भारत सरकार) भी आर्थिक मदद करती है, ताकि किसान को उत्पादन में होने वाले नुकसान से बचाया जा सके.

एम.एस.पी (MSP) – फसल रवी मौसम  – 2019
1. गेंहू   ( Wheat )

  नई एम.एस.पी (MSP)–   1925 रुपये / क्विंटल.

 पुराना भाव – 1840 रुपये/क्विंटल.

  बढोतरी – 85 रुपये/क्विंटल.

2. चना  (Gram, Chick Pea )- 

        नई एम.एस.पी (MSP) —   4875 रुपये/क्विटल.

    पुराना भाव –  4620  रुपये/क्विंटल.

बढोतरी – 255 रुपये/क्विंटल.

3 . मसूर  (Lentil )- 

    नई एम.एस.पी (MSP)— 4800  रुपये/क्विटल.

    पुराना भाव – 4475 रुपये/क्विंटल.

बढोतरी – 325 रुपये/क्विंटल.

4. सरसों  ( Mustard ) – 

    नई एम.एस.पी (MSP) —  4425 रुपये/क्विटल.

पुराना भाव – 4200रुपये/क्विंटल.

बढोतरी – 225 रुपये/क्विंटल.

5. जौ ( Barley )- 

   नई एम.एस.पी (MSP) — 1525 रुपये/क्विटल.

   पुरानाभाव – 1440 रुपये/क्विंटल.

   बढोतरी – 85 रुपये/क्विंटल.

अभी मध्यप्रदेश सरकार द्वारा सोयाबीन, मक्का उड़द, अरहर, कपास, तिल, रामतिल आदि खरीफ फसलों को एम.एस.पी (MSP) भाव पर खरीदी की जाएगी.

अत मध्यप्रदेश राज्य के सभी किसान भाई पहले अपनी फसल का पंजीयन अपने तहसील में सहकारी समिति या निकट की मंडी में कराये, उसके बाद फसल को मंडी में बेचे.

ताकि न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ लिया जा सके.

अन्य राज्यों के किसान भाई अपने जिले में कृषि विभाग में संपर्क करे.

हमारे इस नवीन ब्लॉग को पढ़ने के लिए धन्यवाद

THANKS
for Reading Our Latest Blog on www.kisanhomecart.com,

हमारी इस वेवसाईट पर हम कृषि से सम्बंधित पोस्ट या ब्लॉग लिखते है. ताकि किसान भाइयो को खेती के बारे में नई-नई जानकारी मिलती रहे.

आप सभी से निवेदन है हमारी इस पोस्ट/ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करे. पोस्ट के नीचे नीले रंग का सबमिट(Submit) का बटन है, तो उस में अपना नाम व मेल आई.डी. लिखकर व नीले रंग के सबमिट(Submit) बटन पर क्लिक करेंगे तो वेवसाईट को सब्सक्राइब हो जायेगी और जब भी हम कृषि या कृषि की योजनाओं के बारे में नई पोस्ट डालेंगे, तो आपको नोटिफिकेशन के द्वारा जानकारी मिल जायेगी. इस जानकारी को आप अपने दोस्तों में व्हाट्सअप या फेसबुक पर शेयर जरूर करे.  और अगर आप कुछ पूछना चाहते है तो पोस्ट के नीचे कमेंट बॉक्स है उसमे अपना कमेंट, नाम एवं मेल आई.डी. लिखकर, नीले रंग के पोस्ट कमेंट के बटन पर क्लिक करे.

खेती बाड़ी के बारे में ज्यादा जानकरी के लिए हमारे यूट्यूब चैनल पर विजिट करे – धन्यवाद
https://www.youtube.com/channel/UC8y4ihEQyARwqQMGbzR4ISA
 

कृषि में अनुदान के लिए आवेदन

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है चन्द्र शेखर जोशी और आप सभी किसान भाईयों का स्वागत है हमारी  इस वेवसाईट – www.kisanhomecart.com में.

आज इस पोस्ट में हम चर्चा करेंगे कृषि आदान (कृषि यंत्रो) पर अनुदान लेने के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में, ताकि किसान भाई अनुदान या छूट के लिए आसानी से आवेदन कर सके व सरकार की योजनाओं का लाभ ले सके.

हमारी इस वेवसाईट पर हम कृषि से सम्बंधित पोस्ट या ब्लॉग लिखते है. ताकि किसान भाइयो को खेती के बारे में नई-नई जानकारी मिलती रहे.

आप सभी से निवेदन है हमारी इस पोस्ट/ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करे. पोस्ट के नीचे नीले रंग का सबमिट(Submit) का बटन है, उस में अपना नाम व मेल आई.डी. लिखकर आप नीले रंग के सबमिट(Submit) बटन पर क्लिक करेंगे तो वेवसाईट को सब्सक्राइब हो जायेगी और जब भी हम कृषि या कृषि की योजनाओं के बारे में नई पोस्ट डालेंगे, तो आपको नोटिफिकेशन के द्वारा जानकारी मिल जायेगी. इस जानकारी को आप अपने दोस्तों में व्हाट्सअप या फेसबुक पर शेयर जरूर करे.  और अगर आप कुछ पूछना चाहते है तो पोस्ट के नीचे कमेंट बॉक्स है उसमे अपना कमेंट, नाम एवं मेल आई.डी. लिखकर, नीले रंग के पोस्ट कमेंट के बटन पर क्लिक करे.

कृषि विभाग में योजनाओं का लाभ लेने के लिए आवेदन करने के लिए दो वेवसाईट है 1. www.mpdage.org – जब किसान भाई इस वेबसाईट पर क्लिक करेंगे तो उनकों इस वेबसाइट पर सभी योजनाओं की जानकारी मिल जाएगी. और इन योजनाओं पर मिलने वाले अनुदान/छूट के बारे में जानकारी भी मिल जाएगी.

यहाँ पर पहले एक पॉप-अप विंडो खुलती है 1. जिसमे ई-कृषि यंत्र अनुदान (डी.बी.टी.) के निर्देश मिल जायेंगे आप चाहे तो इसपर क्लिक करके इसकों पढ़ सकते है. 2. चूकि अनुदान के लिए आवेदन फिंगरप्रिंट स्कैनर यानि आवेदन के समय स्वयं किसान को आना पड़ता है और उसका अंगूठा लगता है तब आवेदन होता हो. आवेदन करने के लिए डीलर या एम.पी.ऑनलाइन वाले फिंगरप्रिंट स्कैनर खरीद सकते है. 3. तथा यहाँ से ही क्लिक करके सीधे ई कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर भी जा सकते है.

यह सभी जानकारी पढ़ने के बाद पॉपअप विंडो की बंद कर दे. इसके बाद योजनाओं के अन्तरगत आपकी सभी योजनाओ की जानकारी मिल जाएगी जहा पर आप योजनाओ के बारे में पढ़ सकते है. यहाँ पर कृषि यंत्र प्रदान/सप्लाई करने वाले डीलर की सूची भी आपको मिल जाएगी. तथा कौशल विकास के अन्तरगत जो किसान भाई ट्रेक्टर या कंबाइन हार्वेस्टर की सर्विसिंग, मरम्मत या संचालन की ट्रेनिंग लेना चाहते है उसकी भी जानकारी मिल जाएगी. यह प्रशिक्षण निशुल्क है.

अब एक दूसरी वेबसाईट है www.dbt.mpdage.org केवल इसी वेबसाइट पर किसान भाई यंत्रो पर अनुदान लेने के लिए आवेदन कर सकते है. 1. कृषि यंत्र – कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय – इसमें किसान बड़े कृषि यंत्रो के लिए आवेदन कर सकते है – जैसे – ट्रेक्टर, रोटावेटर, थ्रेशर, सीडड्रिल, कंबाइन हार्वेस्टर, ट्रेक्टर माउंटेड स्प्रे पम्प, रेज्ड बेड प्लान्टर  आदि. 2. सिंचाई उपकरण – किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग –इसमें किसान भाई सिंचाई के लिए पाईप, स्प्रिंकर पाईप, ड्रिप, इंजन, मोटर आदि पर अनुदान के लिए आवेदन कर सकते है. 3. माइक्रो सिंचाई/उधानिकी उपकरण – उद्यानिक एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग – इसमें उधानिकी विभाग में मिलने वाले अनुदान के लिए आवेदन कर सकते है. फलो का बग़ीचा, सब्जी बीज, पाली हाउस, प्याज भण्डारण आदि.

महत्पूर्ण नोट – पहले इन वेबसाइट पर आवेदन करने के साथ ही खरीदने के अनुमति मिल जाती थी – मतलब अगर कोई किसान

स्प्रिंकलर पाइप अनुदान पर खरीदना चाहता है तो पहले उसे वेबसाइट पर आवेदन करना रहता है. अगर उसका आवेदन हो जाता है तो वह स्प्रिंकलर पाइप खरीद सकता है और उसकों अनुदान मिल जायेगा.

लेकिन इसमें बहुत दिक्कत आ रही थे पोर्टल महीने में एक या दो बार दो – चार दिन के लिए खुलता था तो आवेदन नहीं हो पाता था. दूसरा केवल जिस दिन पोर्टल खुलता था उसी दिन आवेदन कर सकते थे.

लेकिन अभी इसको ऐसा कर दिया है की किसान 6 नवम्बर 2019 तक आवेदन कर सकते है और 31 अक्टूबर व 7 नवम्बर को लौटरी से नामों का चयन होगा व चयनित किसानो की सूचि पोर्टल पर रहेगी. तथा किसानो को मोबाइल पर भी चयनित होने की जानकारी दी जाएगी. व कृषि विभाग, कृषि अभियांत्रिकी, उधानिकी विभाग के अधिकारी, कर्मचारी भी किसानों को सूचित कर देंगे. इसके बाद किसान भाई जल्दी से जल्दी उस यंत्र आदि को खरीद सकते है जिसके लिए उन्होंने आवेदन किया था.

पहले एक दो दिन पोर्टल खुलने के कारण किसानो के आवेदन हो ही नहीं पाते थे, जिससे किसानो को दिक्कत होती थी. लेकिन अभी पोर्टल लम्बे समय के लिए खुलता है तो यंत्र आदि पर अनुदान का लाभ लेने के लिए किसान भाई आवेदन कर सकते है. जैसे ही उनको खरीदने की अनुमति विभाग या शासन से मिलेगी तब वो उसकी खरीदी कर सकते है जिसके लिय उन्होंने आवेदन किया था.

यह पोर्टल केबल मध्यप्रदेश के किसानो के लिए है तो इस पोर्टल पर केवल मध्यप्रदेश के किसान ही आवेदन कर योजना का लाभ ले सकते है.

लेकिन अभी लगभग सभी राज्यों में यह योजनाये चल रही है तो अन्य राज्यों के किसान अपनी तहसील, विकासखंड या जिले में कृषि या उधानिकी विभाग में संपर्क करके जानकारी ले सकते है.

अगर कुछ दिक्कत आ रही है तो आप कमेंट करके मुझसे भी पूछ सकते है. 

ज्यादा जानकारी के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल डिजिटल खेती — DIGITAL KHETI पर भी विजिट कर सकते है और

PLAY LIST- उसकी प्लेलिस्ट में सरकारी योजनाओ की लिस्ट में आवेदन कैसे करे व किस पर कितनी छूट या अनुदान है उसके बारे में जानकारी ले सकते है. https://www.youtube.com/playlist?list=PL9-YAXqgaGKbFzeLSVOmFDOn2eUPrSN88